Information Department, Dehradun, Uttarakhand  
विभाग सरकार के बारे में उत्तराखंड एक नज़र में प्रेस नोट फोटो गैलरी प्रकाशन शासनादेश सूचना का अधिकार निविदा / विज्ञापन
        नोटिस बोर्ड
  अनुत्तीर्ण सांस्कृतिक दलो की सूची 2017       सांस्कृतिक दलो के पंजीकरण की सूची 2017       सचिवालय में पत्रकारों एवं उनके वाहनो को प्रवेश पत्र निर्गत करने संबंधी मानक सिद्धान्त       न्यूज़ पोर्टल को सूचीबद्ध करने से पूर्व प्रस्तुतीकरण हेतु आदेश    

विभागीय लिंक्स
 
जनपदवार समाचार
 
विस्तृत समाचार
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अल्मोड़ा स्थित एस.एस.जे. परिसर में भारतीय कृत्रिम अंग विनिर्माण निगम(एलिम्को) द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को अल्मोड़ा स्थित एस.एस.जे. परिसर में भारतीय कृत्रिम अंग विनिर्माण निगम (एलिम्को) द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य सरकार की प्राथमिकता है कि बी0पी0एल0 श्रेणी के वरिष्ठ नागरिको हेतु केन्द्र सरकार द्वारा चलायी गई राष्ट्रीय वयोश्री योजना का लाभ सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के पात्र व्यक्तियों को मिल सके। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय एवं सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग द्वारा यह योजना चालू की गयी है। उत्तराखण्ड में जनपद अल्मोड़ा से इसकी शुरूआत की गयी है। अभी तक देश के 08 प्रान्तों में यह कार्यक्रम आयोजित किये गये है। 09वाॅ प्रान्त उत्तराखण्ड चुना गया है। इस योजना के अन्तर्गत केन्द्र सरकार द्वारा प्रत्येक प्रान्त के 02 जनपदो को चयनित किया जा रहा है। उत्तराखण्ड में इसी तरह का अगला कार्यक्रम हरिद्वार में आयोजित होगा। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि सरकार द्वारा 2.50 लाख से कम आय वाले ऐसे 04 लाख से अधिक लोगो को उज्जवला योजना के तहत निःशुल्क गैस कनैक्शन से आच्छादित किया जायेगा । वीरगति प्राप्त सैनिक एवं अर्द्धसैनिक बलो के परिवार के आश्रितों को राजकीय सेवा में रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा और अधिक सुविधा सम्पन्न हो सके और वहाॅ पर अधिकाधिक पर्यटक आ सके इसके लिए केदारपुरी का पुनर्निर्माण शीघ्र किया जा रहा है। इसके लिए 20 अक्टूबर को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी केदारनाथ आ रहे है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य में सबसे अधिक पलायन जनपद पौड़ी व अल्मोड़ा में हो रहा है इसके लिए सरकार ने पौड़ी में इसके मुख्यालय खोलने का निर्णय लिया है । पलायन रोकने लिए हमें गाॅवों में शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार के नय अवसर पैदा करने होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के 670 न्याय पंचायतों को ग्रोथ सेन्टर के रूप में विकसित किया जा रहा है, जिसमें 150 से 200 तक लोगो को रोजगार मुहैया कराया जा सकेगा जिसके लिए पहले चरण में 50 ग्रोथ सेन्टर विकसित किए जायेंगे। स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक जिले में 02 आई0सी0यू0 सेन्टर की स्थापना की जा रही है, इसके साथ ही टेलीमेडिशन और टेली रेडियोलाजी की शुरूआत की जायेगी। उन्होंने ‘‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ‘‘ के लिए आगे आने की बात कही और बेटियों के जन्म पर एक पौधा रोपण कर इस कार्य में योगदान देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि स्वच्छता को जन आन्दोलन बनाने की जरूरत है ताकि 2022 तक नये भारत की परिकल्पना को साकार किया जा सके। इस कार्यक्रम में उन्होंने दिव्यांग लोगों को कृत्रिम/सहायता उपकरण वितरित किये। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावर चन्द गहलोत ने कहा कि राष्ट्रीय वयोश्री योजना का शुभारम्भ आन्ध्र प्रदेश के नल्लौर जिले में 01 अप्रैल, 2017 को आयोजित किया गया था। राष्ट्रीय वयोश्री का यह 9वाॅ वितरण शिविर है जिसमें अभी तक कुल 16361 लाभार्थी तथा कुल उपकरणों की संख्या 28005 नित्य जीवन सहायक उपकरण दिये जा चुके है, जिसकी कुल लागत धनराशि लगभग 05 करोड़ रू0 की है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय को विभिन्न गैर सरकारी संस्थाओं व वरिष्ठ नागरिकों द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक नई योजना का प्रारम्भ करने का आग्रह किया गया जिसके अन्तर्गत देश के अति वरिष्ठ नागरिको को उसका लाभ मिल सके। इस योजना के अन्तर्गत शारिरिक दुर्बलता के अनुरूप लाभार्थियों को सहायक उपकरण व यन्त्र उपलब्ध कराये जा रहे है जिनमें व्हील चेयर, छड़ी, कान की मशीन, वाॅकर, बैशाखी, नजर का चश्मा व कृत्रिम दाॅत है। उन्होंने बताया कि आज के इस शिविर में कुल 513 लोगो को कृत्रिम उपकरण बाॅटे गये जिनमें 696 कान की मशीन, 34 व्हील चेयर, 745 चश्मे, 288 कृत्रिम दाॅत व 788 छड़ी वितरित की गयी। उन्होंने यहाॅ के जनप्रतिनिधियों से कहा कि वे अपने जिले में डेकेयर सेन्टर व वृद्धाश्रम खोलने के लिए जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान करें। महिला कल्याण व बाल विकास मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने अपने विचार रखते हुए कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा चलायी जा रही इस योजना का लाभ पात्र लोगो को मिले इसके लिए हम सभी को प्रयास करने होंगे। कार्यक्रम में हर्ष सिंह, बचुली देवी, बची राम, गोपुली देवी, दीवान राम, गोपुली देवी, प्रतिमा देवी, हयात सिंह जो हवालबाग, ताकुला व भैसियाछाना ब्लाॅक के थे उन्हें मुख्यमंत्री सहित विशिष्ट अभ्यागतो ने कृत्रिम उपकरण प्रदान किये। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने योग पर आधारित एक पुस्तक का विमोचन भी किया जो डा0 नवीन भटट द्वारा लिखी गयी है। इस अवसर पर एलिम्को के प्रबन्ध निदेशक डी0आर सलीम द्वारा इस योजना के बारे में विस्तृत रूप से बताया गया। इस कार्यक्रम में केन्द्रीय कपड़ा राज्यमंत्री श्री अजय टम्टा, केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री श्री कृष्णकान्त गुर्जर, विधानसभा उपाध्यक्ष श्री रघुनाथ सिंह चैहान, विधायक बागेश्वर चन्दन राम दास, विधायक द्वाराहाट महेश नेगी, भाजपा जिलाध्यक्ष ललित लटवाल, अनिल साही, पूर्व जिलाध्यक्ष रमेश बहुगुणा के अलावा जिलाधिकारी इवा आशीष, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पी0 रेणुका देवी एवं गणमान्य उपस्थित थे।

डाउनलोड अनुलग्नक :
 
Home Page | About us | Contact us | Disclaimer
Please write Suggestions/Comments to improve this site to: Info Support : infodirector[DOT]uk[AT]gmail[DOT]com  
Copyright © 2009 Information Department, Dehradun, Uttarakhand. All Rights Resevered. Best viewed in 1024*786 & above resolution & IE 7.0, Firefox 3.0 or later ver.